व्यापार

जुलाई में अडानी समूह के वैल्यूएशन में 71,031 करोड़ रुपये का उछाल, 10.80 लाख करोड़ रुपये हुआ मार्केट कैप

नई दिल्ली: अडानी ग्रुप (Adani Group) के शेयरों में पिछले महीने अच्छी तेजी देखने को मिली। इस दौरान ग्रुप के शेयरों में 16 फीसदी तक उछाल आई और उसका मार्केट कैप 71,575 करोड़ रुपये बढ़कर 10.8 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया। अडानी ग्रुप की दस कंपनियां शेयर मार्केट में लिस्टेड हैं। 24 जनवरी को आई हिंडनबर्ग रिसर्च की एक रिपोर्ट के कारण अडानी ग्रुप के शेयरों में काफी गिरावट आई थी। जानकारों का कहना है कि अब निवेशकों का फोकस एक बार फिर अडानी ग्रुप के वैल्यूएशन और बिजनस फंडामेंटल्स पर हो गया है। इस कारण ग्रुप के शेयरों में तेजी आई है।

अडानी ग्रुप के शेयरों में पिछले महीने सबसे ज्यादा 16 परसेंट तेजी अडानी ग्रीन एनर्जी (Adani Green Energy) में रही। पहली तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट 51 परसेंट बढ़ा है। जुलाई में एसीसी (ACC) के शेयरों में 11 परसेंट और अंबूजा सीमेंट्स (Ambuja Cements) के शेयरों में नौ परसेंट तेजी आई। अडानी पावर (Adani Power) का शेयर नौ परसेंट चढ़ा जबकि अडानी एंटरप्राइजेज और अडानी पोर्ट्स में पांच-पांच परसेंट की तेजी रही। अडानी टोटल गैस और एनडीटीवी में जुलाई में एक-एक परसेंट तेजी देखने को मिली। अडानी एनर्जी सॉल्यूशंस (Adani Energy Solutions) के शेयरों में सात फीसदी तेजी रही। पहले इसे अडानी ट्रांसमिशन (Adani Transmission) के नाम से जाना जाता है।

किसने बढ़ाई हिस्सेदारी

जून तिमाही के शेयरहोल्डिंग पैटर्न के मुताबिक म्यूचुअल फंड्स ने अडानी ग्रुप की 10 कंपनियों में से सात में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाई है। लेकिन इस दौरान एफपीआई ने छह कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी कम की है। अडानी एंटरप्राइजेज में म्यूचुअल फंड्स की हिस्सेदारी 1.18 परसेंट हो गई है। एसीसी में यह 8.90 परसेंट से बढ़कर 9.21 परसेंट हो गया है। ग्रुप ने पिछले महीने बॉन्ड सेल के जरिए 1,250 करोड़ रुपये जुटाए थे। ग्रुप बॉन्ड मार्केट से 15,000 करोड़ रुपये और जुटाने की योजना बना रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button