राज्यहरियाणा

मांग पूरी न होने पर सिरसा के किसान विरोध प्रदर्शन के लिए टंकी पर चढ़े

सिरसा। सिरसा जिले के गांव नारायण खेड़ा में किसानों की मांग पूरी नहीं होने पर चार किसान बुधवार सुबह पानी की टंकी पर चढ़े गए। किसान अलग अलग गांवों से है। बता दें कि चौपटा तहसील कार्यालय में किसानों ने 90 दिन से मांगों को लेकर धरना दिया हुआ था। पानी की टंकी पर चढ़े किसानों की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची।

ये किसान चढ़े पानी की टंकी पर

गांव नारायण खेड़ा में बने जलघर की टंकी पर बुधवार को सुबह करीब साढ़े पांच बजे चार किसान पानी की टंकी पर चढ़ गए। इनमें गांव नारायण खेड़ा निवासी किसान भरत सिंह झाझड़ा, शक्करमंदोरी निवासी दिवान सहारण व नरेंद्र सिंह, गांव नाथूसरी कलां निवासी जयप्रकाश शामिल है।

90 दिन से किसान दे रहे धरना

तहसील कार्यालय नाथूसरी चौपटा में बीमा क्लेम व मुआवजे को लेकर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले 90 दिन से अनिश्चितकालीन धरना चल रहा है। किसानों के अनुसार किसानों की मांग है कि खरीफ 2022 फसल का बीमा क्लैम व मुआवजा जारी किया जाए, सीएससी सेंटर के द्वारा रद्द हुए बीमे को बहाल करें।

इसी बीमा क्लेम को लेकर लंबे समय तक नाथूसरी चौपटा तहसील कार्यालय के बाहर किसानों का धरना चला था जहां बाद में कृषि विभाग ने लिखित आश्वासन दिया था कि कंपनी से बातचीत कर 31 जुलाई तक बीमा क्लेम की राशि डलवा दी जाएगी लेकिन बीमा क्लेम न आने के कारण 5 किसान अब गांव नारायण खेड़ा के जल घर में बनी टंकी के ऊपर चढ़ गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button